June 4, 2023

आपको बता दें कि पिछले दिनों हिंदरवर्ग नाम की अमेरिकी संस्था की जारी एक रिपोर्ट के बाद आर्थिक दुनिया में सनसनी फैल गई थी एवं दुनिया में अमीरों की लिस्ट में दूसरे स्थान पर विराजित भारतीय उद्योगपति गौतम अडानी की संपत्ति में भारी गिरावट देखने को मिली थी ।वह अपनी संपत्ति का आधा से ज्यादा गंवा दिए थे तथा वह दूसरे स्थान से खिसक कर अमीरों की लिस्ट में 33वें स्थान पर आ चुके थे।

अमेरिकी बुटीक न्यू फर्म नामक एक कंपनी है जिसके मालिक है राजीव जैन। आपको बता दें कि इस कंपनी ने अदानी समूह से जुड़ी हुई चार कंपनियों में 15446 करोड़ों रुपए का निवेश किया है जिससे अडानी को भारी सहयोग मिला है। तथा अदानी को उनकी इस परेशानी से उबरने में कुछ साथ मिला है ।आपको बता दें राजीव जैन भारतीय मूल के हैं ,और वह अमेरिकी बुटीक नाम की कंपनी के चेयरमैन एवं शेयर डिपार्टमेंट के हेड हैं। आगे राजीव जैन ने कहा कि ऐसी कंपनियां का
कालक्रम में प्रोस्पेक्टिव एवं ग्रोथ गिविंग सिद्ध हो सकती हैं ।इसलिए उन्होंने तथा उनकी कंपनी ने इसमें निवेश करने का निर्णय लिया है। आगे उन्होंने कहा कि वह इस प्रकार की कंपनियों में निवेश करके काफी खुश हैं तथा भारतीय इकोनॉमी तथा अदानी के इंफ्रास्ट्रक्चर को वृद्ध करने में काफी सहयोग प्रदान करेगा।उन्होंने इस बात से खुशी जताई है कि वह भारतीय मूल की कंपनियों को किसी प्रकार से मदद कर पा रहे हैं।
उन्होंने कहा कि अडानी इस पीढ़ी के सबसे प्रतिभाशाली उद्योगपतियों में से एक हैं तथा हिंडनवर्ग रिपोर्ट आने के बाद उनकी संपत्तियों में जो गिरवट आया है उसे वह जल्द ही संभाल कर तेजी से आगे बढ़ेंगे।उन्हें पूर्ण विश्वास है कि अडानी सभी परिस्थितियों से लड़कर जल्द ही आगे बढ़ जाएंगे
।राजीव जैन भारत में जन्मे एवं भारत से एमबीए किया है उसके बाद भी अमेरिका में जाकर कई विभिन्न प्रकार की कंपनियों में जॉब करने लगे वह भारत के कई बड़ी-बड़ी कंपनियों के शेयर होल्डर है
।उनके पास में भारती एयरटेल जैसी बड़ी कंपनी का भी शेयर है। जैन के पास ट्विटर अकाउंट नहीं है और वे जल्दी किसी टीवी में दिखाई नहीं देते हैं इसलिए भी ज्यादा प्रसिद्ध नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *